(E Dharti) इ धरती राजस्थान भूलेख , apnakhata.raj.nic.in जमाबंदी, नकल भूलेख

भूलेख राजस्थान ऑनलाइन | Bhulekh Rajasthan Online Check | E Dharti Online Check | नकल भूलेख रिपोर्ट

भूलेख पोर्टल का शुभारंभ राजस्थान राज्य सरकार द्वारा राज्य के नागरिकों को जमीन से जुड़ी सभी जानकारियों को आसानी से प्रदान करने के लिए बनाया गया है| इस पोर्टल से आप ऑनलाइन जमीन से जुड़ी सारी जानकारी निकाल सकते हैं| वेबसाइट के लिए जो सॉफ्टवेयर का उपयोग किया जा रहा है उससे इ धरती (E-Dharti) नाम से जाना जाता है| सरकार द्वारा राजस्व विभाग के सहयोग से निर्मित इस वेबसाइट से लोग अपनी जमीन की जमाबंदी, भू नक्शा, खसरा खतौनी, आदि को ऑनलाइन देख सकते हैं| भूलेख जमीन के लिए एक प्रचलित शब्द है जिसे कि राज्य में राजस्थान भूलेख  के नाम से जाना जाता है

राजस्थान भूलेख

राजस्थान राज्य की लोक गीत ऑनलाइन सुविधा को इ धरती के नाम से भी जानते हैं| राज्य का कोई भी व्यक्ति अपने खसरा नंबर से या भूखंड, अथवा जमीन का मालिक कौन है इसकी जानकारी ऑनलाइन ले सकते हैं| जमीन की खरीद-फरोख्त करते वक्त भी आप जमीन के मालिक का नाम ऑनलाइन देख सकते हैं| इसके अलावा भी राज्य सरकार द्वारा इस पोर्टल से बहुत सी सुविधाएं ऑनलाइन प्रदान की गई है| इस प्रकार आप Bhulekh Portal द्वारा राज्य की किसी भी जमीन का रिकॉर्ड देख सकते हैं व सरकार द्वारा E-Dharti सॉफ्टवेयर में यह सारा रिकॉर्ड रखा गया है| राजस्थान आपनो खातो यानी की भूलेख नामांतरण की प्रक्रिया हेतु आपको गाँव-पटवार के अधिकारी के चक्कर नहीं लगाने होंगे।

राजस्थान भूलेख पोर्टल

इस पोर्टल के माध्यम से आप लोग अपनी जमीन जायदाद का लेखा-जोखा, वह उसका नक्शा ऑनलाइन घर बैठे निकाल सकते हैं| जमीन से संबंधित जरूरी जानकारी के लिए अब पटवारी अथवा तहसील जाने की जरूरत नहीं पड़ती है| जमीन संबंधी सारी जानकारी व जमीन का विवरण राज्य के नागरिक कहीं से भी और कभी भी देख सकते हैं| भूमि का रिकॉर्ड निकालने के लिए राज्य के इच्छुक नागरिकों को Bhulekh portal पर केवल भूलेख नंबर डालकर यह जानकारी प्राप्त कर सकते हैं| और साथ ही आप राजस्थान सरकार द्वारा शुरू किये गए EDharti Portal पर आप जमीन किसके नाम है, जमीन का खाता खसरा ,जमीन का कागज कैसे निकाले, खाता खसरा नकल, खेत की जमाबंदी कैसे निकाले,भूलेख कैसे देखें, राजस्थान जमीन का खसरा कैसे निकाले आदि के बारे में आसानी से ऑनलाइन जानकारी प्राप्त कर सकते हैं। हम आपको इस आर्टिकल के माध्यम से जमीन की सभी जानकारी विस्तार से प्रदान करेंगे।

राजस्थान भूलेख का उद्देश्य

सरकार की इस योजना का मुख्य उद्देश्य यह है कि राज्य की सारी जमीन का लेखा-जोखा एक स्थान पर लोगों के लिए उपलब्ध कराना है| और जमीन को खरीद-फरोख्त में दो धोखेबाजी होती है से लोगों को बचाना है| भूलेख का उद्देश्य लोगों को सही व समय पर जानकारी उपलब्ध कराना है, राज्य सरकार के इस कदम से सरकार को भी काफी फायदा हुआ है, अब सरकार को जमीन का प्रकार उस पर होने वाली खेती वह राज्य में किसानों की जरूरतों का पता भी आसानी से लग जाता है, और इससे सरकार को किसानों के लिए नई योजनाएं बनाने में आसानी होती है|

EDharti Portal के लाभ

  • यदि किसी व्यक्ति को अपनी जमीन का पता करना है तो वह ऑनलाइन जाकर नाम से खसरा नंबर और जमाबंदी का पता कर सकता है|
  • अब नागरिकों को खाता, खसरे की नकल आदि निकालने तहसील या पटवारी के पास नहीं जाना पड़ता|
  • सरकार द्वारा राजस्थान खाता नकल को ऑनलाइन करने के बाद लोगों के इस समय की बचत हुई है|
  • अब लोग स्वयं कभी भी कहीं से भी भूलेख पोर्टल पर भूलेख या खसरा नंबर डालकर अपनी जमीन का रिकॉर्ड, खसरा, जमाबंदी की नकल, जमीन का नक्शा या गिरधारी रिपोर्ट को ऑनलाइन प्राप्त कर सकते हैं|
  • सरकार द्वारा इसे इतना सुविधाजनक बनाया गया है कि लोग अब अपने फोन से भी आसान सारी जानकारी कभी भी कहीं से भी देख सकते हैं |

राजस्थान भूलेख जमाबंदी नकल ऑनलाइन कैसे देखे ?

राज्य के इच्छुक नागरिक जो भूलेख जमाबंदी की प्रति (Jamabandi Nakal) ऑनलाइन देखना चाहते हैं, नीचे दी गई विधि का पालन करें।

  • सबसे पहले, आवेदनकर्ता को भूलेख ऑनलाइन प्राप्त करने के लिए राजस्थान की आधिकारिक वेबसाइट पर जाना होगा। तत्पश्चात Official Website पर जाने के बाद, आपके सामने मुख्य पृष्ठ खुल जाएगा।
  • वेबसाइट के मुख्य पृष्ठ पर सबसे पहले आपको अपने जिले का चयन करना होगा|
  • जिले के चयन के पश्चात आपको अपने तहसील का नाम चुनना होगा|
  • तत्पश्चात तहसील के चयन के बाद वेबसाइट का एक नया पेज खुलेगा|
  • वेबसाइट के इस पेज में आपको अपने ग्राम का चयन करना है |
  • जैसे ही आप अपने गांव को चुनेंगे, तो आपके सामने एक काम खुल जाएगा, इस आवेदन फॉर्म में आपको गोस्वामी का नाम पता व अन्य जानकारी भरनी होंगी|
  • जानकारी को सफलतापूर्वक बनने के पश्चात नकल को देखने के लिए आपको आगे दिए गए विकल्पों में से किसी एक का चयन करना होगा|
  • अब आपको जमाबंदी की नकल निकालने के लिए, खाता संख्या देना चाहते हैं, या खसरा संख्या, या फिर नाम से निकालना चाहते हैं अथवा USN से|
  • इन सभी विकल्पों में से आप किसी को भी चुन सकते हैं|
  • जैसे कि आपने खाता संख्या चुना है तो खाता संख्या डालने के बात आप जमाबंदी की नकल को ऑनलाइन देख सकते हैं|
राजस्थान भू नक्शा \ मैप डाउनलोड कैसे करे

भूलेख  नामांतरण ऑनलाइन आवेदन की प्रक्रिया

प्रदेश के नागरिक यदि जमीन से संबंधित नामांतरण के लिए ऑनलाइन आवेदन करना चाहते हैं तो वह नीचे दिए के चरणों का पालन करें।

  • सबसे पहले, आवेदनकर्ता को भू नक्शा ऑनलाइन प्राप्त करने के लिए राजस्थान की आधिकारिक वेबसाइट पर जाना होगा। तत्पश्चात Official Website पर जाने के बाद, आपके सामने मुख्य पृष्ठ खुल जाएगा।
  • आपको वेबसाइट के मुख्य पृष्ठ पर ही नामांतरण के लिए ऑनलाइन आवेदन करेवाला विकल्प दिखाई देगा, जिस पर कि आपको क्लिक करना है, क्लिक करने के पश्चात आपके सामने अगला पेज खुल जाएगा|
  • वेबसाइट पर आपको वेबसाइट के इस पृष्ठ पर आपको एक आवेदन पत्र दिखाई देगा, इस आवेदन पत्र में कुछ जरूरी जानकारियां पूछी जाएंगी जो कि आवेदक से संबंधित होंगी जैसे कि आवेदक का मोबाइल नंबर, आवेदक का नाम, पिता का नाम, पता, जिला, व ग्राम इत्यादि|
  • सारी जानकारियां भरने के पश्चात आपको सबमिट का बटन दबाने पर नामांतरण के लिए ऑनलाइन आवेदन हो जाएगा|

ऑनलाइन रिपोर्ट राजस्थान फसल गिरदावरी की प्रक्रिया

किसानों को अक्सर फसल गिरदावरी की रिपोर्ट देखनी होती है, अब राज्य सरकार द्वारा इसकी व्यवस्था भी ऑनलाइन कर दी गई है अर्थात अब किसान अपनी फसल गिरदावरी रिपोर्ट को ऑनलाइन देख सकते हैं|

फसल गिरदावरी रिपोर्ट ऑनलाइन देखने की प्रक्रिया बहुत ही आसान है जो कि नीचे दी गई है कृपया इसे ध्यान पूर्वक पढ़ें:-

  • सबसे पहले राजस्थान गिरदावरी रिपोर्ट देखने के लिए आपको सरकार द्वारा बनाई गई आधिकारिक वेबसाइट पर जाना होगा| official website पर क्लिक करने के बाद आपको होम पेज दिखाई देगा|
  • वेबसाइट के मुख्य पृष्ठ पर जमाबन्दी नकल देखने हेतु अपना जिला चुनें, तहसील, गांव, फसल और संबत का चयन करना होगा|
  • जैसी आप सभी जानकारी का चयन करते हैं उसके बाद आपको आगे बढ़े वाले बटन पर क्लिक करना है|
  • इस प्रकार आप राजस्थान की गिरदावरी रिपोर्ट ऑनलाइन देख सकते हैं वह उसको प्रिंट आउट या डाउनलोड भी कर सकते हैं|

Helpline

यदि आपको आपके जमीन संबंधी कोई भी परेशानी या समस्या हो रहे हैं तो आप इसके लिए तहसील ऑफिस में जाकर अपनी परेशानी बता सकते हैं जा नीचे दिए गए किसी भी नंबर पर संपर्क कर सकते हैं| आप अपने जिले में मौजूद राजस्व अधिकारी को नीचे दिए गए नंबर से संपर्क कर सकते हैं|

अक्सर पूछे जाने वाले प्रश्न 

E Dharti से भूलेख देखें (apnakhata) / देखने की प्रक्रिया क्या है?

Bhulekh deke या Bhulekh dikhao जैसे प्रश्न अक्षर लोगों के मन में आते हैं, अपनी जमीन जायदाद का लेखा जोखा आप इ धरती सॉफ्टवेयर के माध्यम से देख सकते हैं, राज्य सर्कार राजस्थान द्वारा इसके लिए वेबसाइट का निर्माण किया गया है, इससे आप कुछ साधरण जानकारी के द्वारा भूलेख देख सकते हैं।

भूलेख या राजस्थान भूलेख पोर्टल के क्या फायदे हैं?

इस पोर्टल से अब लोग राजस्थान खेत का नक्शा, जमाबंदी खसरा देखने की सुविधा ऑनलाइन देख सकते हैं। इस ऑनलाइन सुविधा से अब लोग अपनी जमीन का रिकॉर्ड को भी ऑनलाइन प्राप्त कर सकते हैं। इसे सरकार इ धरती (e dharti) सॉफ्टवेयर से चलाया जाता है। इससे लोगों के समय व धन की बचत हुई है।

राजस्थान भूलेख खसरा ऑनलाइन कैसे देखें?

भूलेख खसरा खतौनी नक़ल ऑनलाइन ऑनलाइन प्राप्त करने के लिए भूलेख पोर्टल में जाकर खसरा संख्या या खातेदार के विवरण से खसरा खतौनी या जमाबंदी की नक़ल ऑनलाइन प्राप्त कर सकते हैं।

अपनी भूमि की जानकारी ऑनलाइन कैसे प्राप्त करें?

अपनी भूमि का विवरण आप इ धरती पोर्टल के माध्यम से या भूलेख वेबसाइट से प्राप्त कर सकते हैं।

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Scroll to Top